आयुर्वेद

Prachin rishiyon ke anusar jis shastra men aayu ke hit, ahit atharth ichchha ka pura n hona, rog, nidan aur vyadhi-shaman ka ullekh kiya gaya ho, use ayurved ke naam se pukara jata hai

आयुर्वेद

आयर्वेद क्या है?

आयुर्वेद दुनिया की प्राचीनतम चिकित्सा प्रणालियों में से एक है। यह अथर्ववेद का विस्तार है। यह विज्ञान, कला और दर्शन का मिश्रण है। ‘आयुर्वेद’ नाम का अर्थ है, ‘जीवन का ज्ञान’ - और यही संक्षेप में आयुर्वेद का सार है। यह चिकित्सा प्रणाली केवल रोगोपचार के नुस्खे ही उपलब्ध नहीं कराती, बल्कि रोगों की रोकथाम के उपायों के विषय में भी विस्तार से चर्चा करती है।

‘आयुर्वेद’ दो शब्दों से मिलकर बना है, आयु अर्थात जीवन और वेद का अर्थ होता है- शास्त्र। इस प्रकार आयुर्वेद का अभिप्राय यह हुआ कि शरीर, इन्द्रिय, मन और आत्मा के मेल को ‘आयु’ कहते हैं। सामान्य शब्दों में कहने का मतलब है कि जब तक मनुष्य के शरीर में इंद्रियां काम करती रहती हैं,  मन कार्यरत रहता है और आत्मा प्राणों को बचाये रखती है तब तक मनुष्य जीता है....................>>Read More

Aankhon ka laal hona, aankhon men kuchh ataka hua mahasus hona aur dard hona hi is rog ke mukhya lakshan hainआंख आना


आंखों का लाल होना, आंखों में कुछ अटका हुआ महसूस होना और दर्द होना ही इस रोग के मुख्य लक्षण हैं। इस रोग में आंखों को खोलने से भी दर्द होता है। आंखों पर ज्यादा रोशनी पड़ने से या ज्यादा बोझ डालने से दर्द और बढ़ जाता है।...............

>>Read More


madhumeh ek aisa rog hai jisake rogi ko bahut samay tak to is rog ke hone ka pata hi nahi chalata hai.मधुमेह


मधुमेह एक ऐसा रोग है जिसके रोगी को बहुत समय तक तो इस रोग के होने का पता ही नहीं चलता है। आधुनिक समय में यह अंग्रेजी के शब्द ´डाइबिटीज´ के नाम से जाना जाता है। इस तरह के रोग में रोगी के पेशाब ...................

>>Read More


Adhikatar baal ka jhadana ek swabhavik kriya hai, lekin  jab adhik matra men bal jhadane lagata hai to yah ek rog ka rup dharan kar leta haiबालों का गिरना


आमतौर पर सभी व्यक्तियों के बाल झड़ते हैं, यह एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। बाल पूरी तरह से बढ़ जाने के बाद खुद ही झड़ जाते हैं और उस जगह पर नए बाल आ जाते हैं किंतु ज्यादा बाल झडे़ तो यह एक रोग है।...................

>>Read More


Babul ka ped bahut hi purana hai, babul ki chhl env gond prasidh vyavasayik dravy hai. yah registani pradesh ka podha hota hai.बबूल


बबूल का पेड़ बहुत ही पुराना है, बबूल की छाल एवं गोंद प्रसिद्ध व्यवसायिक द्रव्य है। वास्तव में बबूल रेगिस्तानी प्रदेश का पेड़ है। इसकी पत्तियां बहुत छोटी होती है। यह कांटेदार पेड़ होता है।............................

>>Read More


Badam ke pend parvatiy kshetron men adhik payen jate hain aur iske patte lambe, chaude aur mulayam hote hain.बादाम


बादाम के पेड़ पर्वतीय क्षेत्रों में अधिक पाये जाते हैं। इसके तने मोटे होते हैं। इसके पत्ते लम्बे, चौडे़ और मुलायम होते हैं। इसके फल के अंदर की मींगी को बादाम कहते हैं।......................

>>Read More


Tulsi (tulsee) sabhi sthanon par paee jati hai aur ise log adhiktar gharon, bagon v mandiron ke aas-pas lagate hai.तुलसी


तुलसी सभी स्थानों पर पाई जाती है। इसे लोग घरों, बागों व मंदिरों के आस-पास लगाते हैं लेकिन यह जंगलों में अपने आप ही उग आती है। तुलसी की अनेक किस्में होती हैं.............. .............

>>Read More


Munakka khane men garm aur tar prakrati ka hota hai.मुनक्का


मुनक्का खाने में गर्म और तर प्रकृति का होता है। सर्दी के मौसम में मुनक्का का रोजाना सेवन करना लाभदायक होता है।.......................

 

>>Read More


methi ke patton se sabjee banayi jati hai aur iske beejon ka upayog ahar ke liye bibhinn vyanjanon me tatha aushdhiyon ke rup men bahut adhik kiya jata haiमेथी


मेथी की खेती लगभग सभी प्रदेशों में की जाती है। मेथी के पत्तों से सब्जी बनायी जाती है। इसके बीजों का उपयोग आहार के लिए विभिन्न व्यंजनों में तथा औषधि के रूप में बहुत अधिक किया जाता है।......................

>>Read More


Bhojan ko swadist v pachan yukt banane ke liye adharak ka upayog aamtaur par kiya jata hai.अदरक


भोजन को स्वादिष्ट व पाचन युक्त बनाने के लिए अदरक का उपयोग आमतौर पर हर घर में किया जाता है। वैसे तो यह सभी प्रदेशों में पैदा होती है, लेकिन अधिकांश उत्पादन केरल राज्य में किया जाता है। .................................

>>Read More


Amarud ka per aamtaur par bharat ke sabhi rajyon men ugaya jata hai. uttar pradesh ka allahabadi amarud vishvavikhyat hai.अमरूद


अमरूद का पेड़ आमतौर पर भारत के सभी राज्यों में उगाया जाता है। उत्तर प्रदेश का इलाहाबादी अमरूद विश्वविख्यात है। यह विशेष रूप से स्वादिष्ट होता है। इसके पेड़ की ऊंचाई 10 से 20 फीट होती है।..................................

>>Read More


Neemboo (nimbu) ek rasila phal hai. Ismen citric acid adhik paya jata hai. Nimbu ka achar bhi banaya jata hai.नींबू


नींबू एक रसीला फल है। इसमें सिट्रिक अम्ल अधिक होता है। यह क्षारीय दृष्टि से एक अपरिहार्य फल है। नींबू का अचार भी डाला जाता है। नींबू के रस के बिना गाजर, मूली, खीरा, ककड़ी, प्याज आदि के सलाद को स्वाद (टेस्ट) नहीं होता हैं।............................

>>Read More


Aam ke phal ko shastron me amrit phal mana gaya hai ise do prakar se boya jata hai pahala guthali bokar ugaya jata. आम


आम के फल को शास्त्रों में अमृत फल माना गया है इसे दो प्रकार से बोया (उगाया) जाता है पहला गुठली बोकर उगाया जाता है जिसे बीजू या देशी आम कहते हैं।..........................

>>Read More


Gende ki khubsurati aur sugandh sabhi ko aakarshit karati hai tatha iske phoolon ki malaon ka adhik matara  prayog jivan men kiya jata hai.गेंदा


गेंदे की खूबसूरती और सुगंध सभी को आकर्षित करती है तथा इसके फूलों की मालाओं का अधिक मात्रा में प्रयोग आम जीवन में किया जाता है। इसका पौधा बरसात के मौसम में लगाया जाता है...........................

>>Read More


Neem ka per bahut bada hota. Neem ka pend vatavaran ko shudh banane me adhik bhumika nibhata hai.नीम


नीम का पेड़ बहुत बड़ा होता है। नीम का पेड़ वातावरण को शुद्ध बनाने में विशेष भूमिका निभाता है, क्योंकि नीम की पत्तियों में गुणकारी तत्व पाये जाते हैं जो जीवाणुओं को नष्ट करते रहते हैं।...........................

>>Read More


Adhiktar pet ke kire mal, kaf tatha rakt ke dwara sharir se bahar nikal jaten hai.पेट के कीड़े


ये मल, कफ, रक्त (खून) के साथ शरीर के बाहर निकल जाते हैं। छोटे कृमि (कीड़ों) को `चुनने´ और बडे़ कृमि (कीड़े) को `पटेरे` कहते हैं.........................

>>Read More


Pya pure bharat men paya jata hai. Pyaj safed aur laal do prakar ke hote hai.प्याज


प्याज पूरे भारत में पाया जाता है। प्याज सफेद और लाल के भेद से दो प्रकार का होता है। प्याज एक उत्तेजक पदार्थ है इसलिए पाचन-सम्बंधी समस्त विकारों (बीमारी) में इसका प्रयोग किया जाता है।......................

>>Read More


Maleriya ka bukhar thand lagakar hota hai. Is bukhar men rogi ke sharir ka tapman 101 se 105 digri tak bana rahata hai.मलेरिया


मलेरिया का बुखार ठंड़ लगकर आता है। इस बुखार में रोगी के शरीर का तापमान 101 से 105 डिग्री तक बना रहता है। यह एक प्रकार का संक्रामक बुखार हैं जो कि पहले, दूसरे, तीसरे और चौथे दिन पर ठंड़ लगकर आता है ...................................

>>Read More


Matar ki sabji men pyaj dalane se vah swadisht lagati hai. Matar ki sabji aalu dalakar banaee jati hai.मटर


मटर की सब्जी में प्याज डालने से वह स्वादिष्ट लगती है। मटर की सब्जी आलू डालकर बनाई जाती है। मटर की फली के हरे दाने खिचड़ी में भी डाले जाते हैं जिससे वह स्वादिष्ट बनती है।.................................

>>Read More


Jab sans lene me dikkat mahasus hoti hai  to use dama kahate hain. Is rog men rogi ko sans bahar ki or chhodaten samay jor lagana padata hain.दमा


सांस लेने में दिक्कत या कठिनाई महसूस होने को श्वास रोग कहते हैं। इस रोग की अवस्था में रोगी को सांस बाहर छोड़ते समय जोर लगाना पड़ता है। इस रोग में कभी-कभी श्वांस क्रिया चलते-चलते अचानक रुक जाती है.......................

>>Read More


Danton ka dard danton ki thik prakar ki safaee na karane ke karan hota hai.दांतों का दर्द


भोजन करने के बाद दांतों की सफाई न करने पर दांतों के बीच फंसे अन्न का कण बाहर नहीं निकल पाता है जिससे दांतों के बीच फंसे अन्न के कण रात को सोने पर मुंह से निकले वाले लार के संपर्क में आकर सड़ने लगते हैं।.........................

>>Read More


Mulee pure bharat men paida ki jati hai. Yah gajar ki tarah jamin men hota hai. मूली


मूली पूरे भारत में पैदा होती है। मूली भी गाजर की तरह जमीन के अन्दर कन्दरूप में पैदा होती है। मूली की मुख्य दो किस्में होती है-सफेद और छोटी सफेद लाल। इसकी गोल आदि अन्य किस्में भी होती हैं।...................................

>>Read More


Laal mirchi ka paudha 60 se 90 semtimeter hota hai iske phool saphed o pattiyon ka rang hara hota hai. लालमिर्च


लालमिर्च का पौधा 60 से 90 सेमी ऊंचा होता है इसके पत्ते लंबे होते हैं। इसके फूल सफेद व पत्तियों का रंग हरा होता है। फल अगर कच्चा है तो हरा और पक जाने पर हल्का पीला व लाल होता है।.............................

>>Read More


Jab mal aanton me sukhakar ruk jati hai to pet me gais banane lagata hai jisake kara pet pholane lagta hai.पेट का फूलना


मल जब सूखकर मलद्वार से बाहर न निकलकर आंतों में रुक जाता है तो उसे पेट का फूलना या आनाह कहते हैं।................................

 

>>Read More


Aankho ke sabhi rogon men aankhon se dhundhala dikhaee dena ka lakshan adhiktar payee jati hai.आंखों के सभी रोग


इस रोग में रोगी को आंखों से सब कुछ धुंधला दिखाई देता है तथा उसे आंखों से अजीब-अजीब सी चीजें दिखाई देती हैं जोकि वास्तव में होती ही नहीं है जैसे मक्खी-मच्छर तथा मकड़ी के जाले आदि दिखाई पड़ना..................................

>>Read More


Danton ki niyamit saphaee n karane se danton ke beech phanse ann ka kan sadane lagata hai to danton me infection hone lagata hai jo kaee prakar ki bemariyon ko janm deti hai.दांतों में कीड़े लगना


दांतों की नियमित सफाई न करने से दांतों के बीच फंसे अन्न का कण सड़ने लगता है। अन्न के कण के सड़ने से दांतों में कीड़े लग जाते हैं जिससे दांतों की जड़ कमजोर होती है। .............................

>>Read More

  कुछ खास थेरेपियां

मंत्र

jkhealth world ke mantra topic men hindu darm se juden sabhi prakar ke garnthon, shaloko, mantron tatha prameshwar ke artiyan aadi articles upasthit hai.

आयुर्वेद

jk health world men ayurved se kiye jane wale upcharon tatha usmen upayog ki jane wali aushdiyan ka vistrit jankariya upalabdh hai.

होम्योपैथिक थेरेपी

jk health world ke homeopathic cetegory men bhibhinn prakar ke homeopathic aushdiyon ke baren men bataya gaya hai jisase apako upchar karne me sahayata milegi

प्राकृतिक चिकित्सा

jk health world ne prakratic chikitsa ke bare men bibhinn prakar se bataya hai ki hamen prakratic ke banaye rule ko kis prakar se follow kare apane swashtya ko banaye rakhana hai.

योगा

jk health world ne yoga ke bibhinn asanon, mudrayen, yog aur yog ke kriyao ko bataya hai jise aap read (pad kar) kar ke  aap apne jivan men apne swasthya ki prati jagarook ho sakenge.

लेडीज ब्यूटी

Striyon ke beauty ko barakar rakhane ke liye kya-kya chijo ki jarurat padati hai tatha apne beauty ko kis prakar se barakar rakh sake iske bare men jk health world ne isme bistrit jankari di hai.

सेक्स थेरेपी

Sex therapy men vibhinn prakar ke sex se sambandhit asana, tips, education, vevahik karyakaram, sex organ tatha sex ke karan hone wale rogon se bachane ke upaye bataye gaye hai.