सेक्स में नयापन


सेक्स में नयापन 


समाज में सेक्स का महत्व :

परिचय-

          सेक्स क्रिया में आनन्द और संतुष्टि पाने के लिए सेक्स संबंधों में नयापन लाना आवश्यक होता है। एक ही तरीके से सेक्स संबंध बनाने से यह सेक्स संबंध उबाऊं, बोरिंग और सुस्त लगने लगता है। सेक्स क्रिया में आनन्द और संतुष्टि पाने के लिए सेक्स संबंधों में नयापन लाना आवश्यक होता है। एक ही तरीके से सेक्स संबंध बनाने से यह सेक्स संबंध उबाऊं, बोरिंग और सुस्त लगने लगता है। जब सेक्स संबंधों में कोई नयापन नहीं होता है तो पति-पत्नी एक-दूसरे को दोष देने लगते हैं।

          सेक्स संबंधों में आनन्द और संतुष्टि न मिलने से पति-पत्नी के बीच एक दीवार सी बनने लगती है जिसका प्रभाव वैवाहिक जीवन पर पड़ता है। सेक्स संबंधों में आनन्द न मिलने से पति-पत्नी के बीच मनमुटाव होने से दोनों दुखी रहने लगते हैं जिससे सेक्स की इच्छा में कमी आने लगती है। इस तरह के कारणों से पति-पत्नी अलग रहने लगते हैं या उनका जीवन कष्टमय हो जाता है। अतः जीवन में उत्पन्न इस तरह की समस्याओं से बचने के लिए सेक्स संबंधों में नयापन लाना बेहद आवश्यक है।

सेक्स संबंधों में नयापनः

एक-दूसरे के प्रति प्यार को बढ़ावा देना-

          युवक-युवतियों की जब शादी होती है तो शादी के कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक रहता है। पति-पत्नी के बीच संबंध अच्छे रहते हैं लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता जाता है वैसे-वैसे काम व अन्य कारणों से पति-पत्नी के बीच दूरियां बढ़ती जाती हैं जिससे उन्हें आपस में प्यार करने का मौका ही नहीं मिलता और उनके बीच सेक्स संबंधों में भी खटास बढ़ने लगता है। वैवाहिक जीवन में उत्पन्न इस तरह की समस्याओं से बचने के लिए आवश्यक है कि पति-पत्नी आपस में बात करने के लिए समय निकालें। एक-दूसरे से अच्छी बाते करें और एक-दूसरे की बातों को सुने। दोनों ही एक-दूसरे का सम्मान करें और सेक्स संबंध के नए तरीकों को अपनाएं।

एक-दूसरे के बीच अच्छे संबंध के लिए उपहारः

          वैवाहिक जीवन को आनन्दित व सुखी बनाने के लिए आवश्यक है कि पति-पत्नी समय-समय पर एक-दूसरे को उपहार दिया करें। यह आवश्यक नहीं है कि उपहार के लिए कोई खास मौका ही हो। इस तरह एक-दूसरे को उपहार देने से वैवाहिक जीवन में संतुलन बना रहता है और एक-दूसरे के प्रति प्यार बढ़ता है।

सेक्स संबंधों में नयापन के लिए कपड़ों की अदला-बदलीः

          वैवाहिक जीवन में किसी प्रकार का कोई विवाद एवं असंतुष्टि पैदा न हो, इसलिए जब भी मौका मिले अपनी पत्नी की सुन्दरता, उसके कपड़े और बातों की तारीफ करना चाहिए। इस तरह पत्नी को भी पति की तारीफ करनी चाहिए। एक-दूसरे की तारीफ करने से सेक्स संबंधों में नवीनता आती है। सेक्स संबंधों में नवीनता के लिए चाहिए कि बेडरूम वे एक-दूसरे के कपड़े पहने तथा अलग-अलग तरीके से एक-दूसरे को खुश करने की कोशिश करें।

बच्चों जैसी हरकते करनाः

          सेक्स संबंधों में नवीनता लाने के लिए पति को चाहिए कि वह अपनी पत्नी के सामने बच्चों की तरह व्यवहार करे और घुटने के बल चले। पति-पत्नी दोनों के एक-दूसरे के अंगों के साथ छेड़छाड़ करना चाहिए। पत्नी को चाहिए कि पति को घोड़ा बनने के लिए कहें और उस पर सवार हो जाए। बेडरूम में जाते समय दोनों को आवाज निकालना चाहिए। पत्नी को चाहिए कि पत्नी के स्तनों को स्पर्श करे तथा चूसे। इस तरह की हरकते करने से पत्नी के मन में प्यार और उत्तेजना बढ़ने लगती है जिससे सेक्स क्रिया में बेहद आनन्द मिलता है।

बार-बार हनीमून मनानाः

          सेक्स संबंधों के प्रति हमेशा उत्साह और चाह बनाए रखने के लिए पति-पत्नी को चाहिए कि वे हर साल कहीं न कहीं घूमने के लिए जाएं। घूमने के लिए आप हनीमून के लिए जहां गए थे वहां जा सकते हैं या किसी नई जगह और होटल भी चुन सकते हैं। इस तरह जब आप घूमने जाएं तो एक-दूसरे को पहली हनीमून पर किए गए कार्य और बातों को याद कराएं। इस तरह बाहर घूमने और अपनी हनीमून के बारे में बात करने से सेक्स संबंधों की याददाश्त ताजा हो जाती है और सेक्स क्रिया में नयापन महसूस होता है।

प्यार भरी बातेः

          शादी के बाद पति-पत्नी दोनों के बीच एक समस्या रहती है वे एक-दूसरे को किस नाम से बुलाएं। आमतौर पर लोग अपनी पत्नी को सामान्य नाम से पुकारतें हैं जैसे- एजी, ओजी आदि। इसके अतिरिक्त कुछ लोग अपनी पत्नी को उसके मायके के नाम से भी पुकारते हैं। लेकिन पति-पत्नी के बीच अच्छे संबंध बनाए रखने के लिए आवश्यक है कि वे दोनों एक-दूसरे को पुकारने के लिए अच्छे नाम रखें और उसी नाम से उसे पुकारें। इससे एक-दूसरे के प्रति प्यार बढ़ता है।

 पति-पत्नी को आपसी संबंधों को सही बनाए रखने के लिए कभी-कभी एक साथ बैठकर अपने विवाह के फोटो एलबम या वीडियो रिकॉडिंग देखना चाहि्ए। मीठी बाते करनाः

          पति-पत्नी को आपसी संबंधों को सही बनाए रखने के लिए कभी-कभी एक साथ बैठकर अपने विवाह के फोटो एलबम या वीडियो रिकॉडिंग देखना चाहि्ए। विवाह के समय किए गए कार्यों को याद करना चाहिए, पहली बार मिलने पर किए गए बातों को याद करना चाहिए, सुहागरात के समय की गयी सेक्सी बातों व घटनाओं को एक-दूसरे को सुनाएं। इस तरह पुरानी बातों और घटनाओं को याद करने से पति-पत्नी के बीच नजदीकियां बढ़ती है जिससे सेक्स संबंधों में नयापन आता है।

सेक्स संबंधी अंगों का नाम रखनाः

          स्त्री-पुरुष चाहे तो वे सेक्स संबंधी अंगों को नाम दे सकते हैं लेकिन इन नामों को केवल बेडरुम में ही उपयोग करना चाहिए। स्तनों, लिंग और योनि का नाम रख सकते हैं। इस तरह इन अंगों के नाम रखने से सेक्स क्रिया बेहद रोमांचित और आनन्दित होता है।

सेक्स क्रिया के समय बाते करनाः

          सेक्स संबंध बनाने से पहले स्त्री को पुरुष के लिंग को सहलाना चाहिए और उससे बाते करनी चाहिए। इस क्रिया में इस तरह बाते करनी चाहिए जैसे कोई किसी व्यक्ति से बाते करता है। इस तरह पुरुष को भी स्त्री की योनि और स्तनों से बाते करनी चाहिए। इस तरह दोनों को एक-दूसरे के अंगों से बाते करनी चाहिए। इससे सेक्स क्रिया में बेहद उत्तेजना पैदा होती है जिससे सेक्स का भरपूर आनन्द मिलता है।

सेक्स क्रिया से पहले का खेलः

          सेक्स संबंध बनाने से पहले पति-पत्नी को चाहिए कि वे आपस में कोई भी खेल-खेले। पति-पत्नी दोनों को ही एक-दूसरे के अंगों को सहलाना और छूना चाहिए। इस तरह एक-दूसरे के अंगों से खेलने से दोनों के अन्दर कामुक उत्तेजना उत्पन्न होगी। इस प्रकार कामुक उत्तेजना पैदा होने के बाद सेक्स करने से सेक्स में नयापन के साथ-साथ आनन्द भी मिलता है।

आंखों-आंखों में बाते करनाः

          पति-पत्नी को सेक्स संबंधों को बेहतर बनाने के लिए एक-दूसरे से आंखों ही आंखों में बाते करते हुए रात को सेक्स क्रिया के लिए प्रोग्राम बनाना चाहिए। इस तरह मुंह से बिना कुछ बोले इशारों से सेक्स की बाते करने और सेक्स के लिए एक-दूसरे को उत्तेजित करने से सेक्स क्रिया का आनन्द और सुख और बढ़ जाता है।

नए तरीके से सेक्स की पहल करनाः

          सेक्स संबंध बनाने के लिए हमेशा नए-नए तरीके का उपयोग करना चाहिए क्योंकि एक ही तरीके से सेक्स करने से सेक्स के दौरान वह आनन्द नहीं मिलता जो मिलना चाहिए। सेक्स संबंध बनाने से पहले एक-दूसरे की तारीफ करनी चाहिए। पुरुष को स्त्री से सेक्स संबंधित बाते करनी चाहिए, उसकी बालों, आंखों और उसकी खूबसूरती की तारीफ करनी चाहिए। सेक्स संबंधी कोई घटना सुनाएं, उसके शरीर व कामुक अंगों को सहलाएं। इससे स्त्री और पुरुष दोनों में सेक्स के प्रति उत्तेजना बनी रहती है और सेक्स से दोनों को पूर्ण आनन्द मिलता है। पति-पत्नी दोनों को ही सेक्स संबंधों के लिए नये तरीकों का उपयोग करना चाहिए। हमेशा सेक्स के नये तरीके का उपयोग करने से सेक्स का आनन्द बना रहता है।

शादी की सालगिरह मनानाः

          वैवाहिक जीवन सुखमय बनाने और सेक्स के रोमांच को कायम रखने के लिए शादी की सालगिरह मनानी चाहिए। शादी की सालगिरह मनाने से पति-पत्नी दोनों की पुरानी यादें ताजा हो जाती हैं। दोनों के अन्दर की भावनाएं जागृत हो जाती हैं और हनीमून की याद ताजा हो जाती है। सालगिरह पर रोमांटिक जगहों पर घूमने जाना चाहिए और रोमांटिक बातें करनी चाहिए।

गिफ्ट देनाः

          वैवाहिक जीवन में एक-दूसरे को खुश रखने के क्रम में गिफ्ट का भी बेहद महत्व है। स्त्री-पुरुष दोनों को ही एक-दूसरे को गिफ्ट देना चाहिए। इससे एक-दूसरे के लिए मन में प्यार बढ़ता है और आपसी संबंध ठीक रहते हैं। पति को चाहिए कि गिफ्ट देने से पहले वह चोरी-छिपे यह जानने की कोशिश करे कि गिफ्ट में क्या दे जो उसे पसंद हो। इस तरह पत्नी को भी पति के खुश करने के लिए गिफ्ट देना चाहिए। इससे दोनों का मन प्रसन्न रहता है जिसके कारण सेक्स संबंध में बेहद आनन्द और सुख मिलता है। 

सेक्स के लिए आसनों का उपयोग करनाः

          सेक्स क्रिया में आसन का बेहद महत्व है। एक ही तरीके और एक ही आसन में सेक्स करने से पति-पत्नी को सेक्स से शारीरिक व मानसिक सुख नहीं मिल पाता जो उसे सेक्स से मिलना चाहिए। सेक्स क्रिया में आसन का बेहद महत्व है। एक ही तरीके और एक ही आसन में सेक्स करने से पति-पत्नी को सेक्स से शारीरिक व मानसिक सुख नहीं मिल पाता जो उसे सेक्स से मिलना चाहिए। ऐसे में सेक्स का भरपूर आनन्द प्राप्त करने के लिए हमेशा नए-नए आसनों का उपयोग करना चाहिए। अलग-अलग आसनों में सेक्स करने से सेक्स का पूर्ण आनन्द मिलता है। सेक्स में आनन्द के लिए कभी भी ऐसे आसनों का प्रयोग न करें जिससे स्त्री को कष्ट हो क्योंकि ऐसे आसनों में सेक्स करने से न ही आनन्द मिलता है और न ही संतुष्टि। ऐसे कष्टकारी आसनों में सेक्स करने से स्त्री रोगग्रस्त भी हो सकती है। अतः अलग-अलग आसनों में सेक्स करें लेकिन कठिन आसनों में कभी भी सेक्स न करें।

Tags: sex ke liye aasno ka upyog karna. vevahik jeevan, sex kriya, honeymoon