सौंफ से रोगों का उपचार

1. अनिद्रा : सौंफ को पानी के साथ काढ़ा बनाकर दूध में मिलाकर पीने से नींद न आना (अनिद्रा) दूर होता है।
2. अपच (अग्निमांद्य) : सौंफ के पत्ते का काढ़ा बनाकर सेवन करने से अपच दूर होता है और पाचन क्रिया तेज होती है। इसका सेवन स्त्रियों के लिए भी फायदेमंद है क्योंकि इससे स्तनों में दूध अधिक होता है।
3. कब्ज : बेल का गूदा और सौंफ एक साथ चबाकर खाने से कब्ज दूर होती है और पेट साफ होता है। इससे भूख खुलकर लगती है।
4. मासिकस्राव : यदि अधिक मासिकस्राव हो रहा हो तो सौंफ का सेवन करना चाहिए। इसका सेवन प्रतिदिन करने से मासिकधर्म नियमित होता है।
5. दस्त : सौंफ को पानी में उबालकर ठंडा करके पीने से दस्त का बार-बार आना बंद होता है और शरीर में पानी की मात्रा बनी रहती है।